सांड की आँख अनुराग कश्यप की देखरेख में बन रही है जिसे तुषार हीरानंदानी डायरेक्ट कर रहे है

“सांड़ की आँख” नाम से बड़े पर्दे पर आ रही है शूटर दादियों की कहानी

मनोरंजन

चंद्रो तोमर और प्रकाशी तोमर. इन दोनों के जीवन पर एक फिल्म बन रही है. फिल्म बना रहे है अनुराग कश्यप. अनुराग की फिल्में ट्रडिशनल हिन्दी फिल्मों से हटकर होती है. अब आप ये सोच रहे होंगे कि इन दोनों महिलाओं ने ऐसा क्या किया होगा. जो अनुराग जैसा फिल्ममेकर इनकी ज़िंदगी पर फिल्म बनाने जा रहा है. तो हम आप को बता दे.

चंद्रो और प्रकाशी तोमर शूटर है. और दोनों की उम्र 80 साल से ऊपर है. दोनों रिश्ते में देवरानी, जेठानी है. दादियां यूपी के बागपत जिले के जोहड़ी गांव की रहने वाली है. दोनों ने शूटिंग में नेशनल लेवल के कई मैडल जीत रखे हैं. एक बार चंद्रो अपनी पोती के साथ चली गई. पोती शूटिंग सीख रही थी. तो दादी ने भी खेल खेल में एक निशाना लगाया और निशाना लगा जाके ठिकाने पर. फिर क्या था कोच साहब ने दादी को ट्रेनिंग देनी शुरू कर दी. और अपनी जेठानी की देखा देखी प्रकाशी तोमर भी निशानेबाज़ी सीखने जाने लगी और उसके बाद तो दोनों ने गर्दा उड़ा दिया. यहाँ तक की दिल्ली पुलिस के डीआईजी को भी चंद्रो तोमर ने निशानेबाज़ी में हरा दिया.

सांड़ की आँख से पहले कौनसे नाम से आने वाली थी फिल्म ?

अनुराग कश्यप की गैंग्स ऑफ वासेपुर. जिसनें बॉलीवुड को नवाज, पंकज त्रिपाठी जैसे बाकमाल एक्टर दिए. उसी फिल्म में एक गाना है. ओ वुमनिया. जिसे लिखा है वरुण ग्रोवर ने और कंपोज़ किया है स्नेहा खनवालकर ने. उसी वुमनिया गाने के नाम से शूटर दादियों की फिल्म आने वाली थी. लेकिन इस टाइटल में एक पेंच फस गया. पेंच था कॉपीराइट को लेकर. हुआ ये कि जब अनुराग इस वुमनिया टाइटल को पेटेंट करवाने गए तो उन्हें पता चला कि इस टाइटल को तो प्रीतिश नंदी ने पेटेंट करवा रखा है. प्रीतिश नंदी पॉलिटिशियन, प्रोडूसर है. नंदी शिवसेना की तरफ से राज्यसभा के सांसद भी रह चुके है.

फिर क्या था. बकौल अनुराग प्रीतिश नंदी से रिक्वेस्ट की कि वो ये कॉपीराइट उन्हें दे दे. लेकिन प्रीतिश ने 1 करोड़ की मांग रख दी. टाइटल के बदले. जिसके बाद अनुराग ने ट्वीट कर के कहा कि वो अपनी ही फिल्म के एक गाने के नाम पर कॉपीराइट के लिए 1 करोड़ की एक्सट्रोशन नहीं देंगे. आगे अनुराग ने एक और ट्वीट कर फिल्म के नाम सांड़ की आँख के बारे में बताया और कहा कि मुझे खेद है कि मैंने प्रीतिश नंदी पर भरोसा किया.

फिल्म में तापसी पन्नू और भूमि पेडनेकर मुख्य भूमिका में है. फिल्म को डायरेक्ट कर रहे है तुषार हीरानंदानी. जो इससे पहले कई फिल्मों की स्क्रिप्ट लिख चुके है. जिनमें एक विलेन, ढ़िशूम, मस्ती , एबीसीडी प्रमुख हैं. 10 फरवरी से फिल्म की शूटिंग स्टार्ट हो चुकी है.

1 thought on ““सांड़ की आँख” नाम से बड़े पर्दे पर आ रही है शूटर दादियों की कहानी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *